चाणक्य के अनमोल विचार | Chanakya Quotes In Hindi| Hindi Quotes

चाणक्य के अनमोल विचार | Chanakya Quotes In Hindi

1 : बुद्धिमान व्यक्ति का कोई दुश्मन नहीं होता.

2:मुर्ख लोगो से वाद-विवाद नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से हम अपना ही समय नष्ट करते है.

3:डर को नजदीक न आने दो अगर यह नजदीक आ जाय तो इस पर हमला कर दो.

4.जो धैर्यवान नहीं है, उसका न वर्तमान है न भविष्य।

5.भूख के समान कोई दूसरा शत्रु नहीं है।

6.दुष्ट की मित्रता से शत्रु की मित्रता अच्छी होती है।

चाणक्य के अनमोल विचार | Chanakya thought In Hindi

7.इतिहास गवाह है की नुकसान हमें दुर्जनों की दुर्जनता से नहीं हुआ, उससे ज्यादा सज्जनों की निष्क्रियता से हुआ है।”

8.शासक को स्वयं योग्य बनकर योग्य प्रशासकों की सहायता से शासन करना चाहिए।

9.भगवान मूर्तियो मे नही बसता बल्कि आपकी अनुभूति ही आपका ईश्वर है और आत्मा आपका मंदिर.

10.मनुष्य स्वयं ही अपने कर्मो के दवारा जीवन मे दुःख को बुलाता है.

11.जो तुम्हारी बात को सुनते हुए इधर-उधर देखे उस आदमी पर कभी भी विश्वास न करे.

12.कोई भी व्यक्ति ऊँचे स्थान पर बैठकर ऊँचा नहीं हो जाता बल्कि हमेशा अपने गुणों से ऊँचा होता है.

13.दुर्बल के साथ संधि न करे।

14.दण्ड का डर नहीं होने से लोग गलत कार्य करने लग जाते है.

15.बहुत से गुणो के होने के बाद भी सिर्फ एक दोष सब कुछ नष्ट कर सकता है.

16.व्यक्ति के मन में क्या है, यह उसके व्यवहार से प्रकट हो जाता है।

17.शत्रु की निंदा सभा के मध्य नहीं करनी चाहिए।

18.पराई वस्तु को पाने की लालसा नहीं रखनी चाहिए।

19.जो व्यक्ति शक्ति न होने पर मन में हार नहीं मानता उसे संसार की कोई भी ताकत परास्त नहीं कर सकती.

20.जिस प्रकार बालू अपने रूखे स्वभाव नहीं छोड़ सकता, उसी प्रकार दुष्ट भी अपना स्वभाव नहीं छोड़ पाता।

21.कोई काम शुरू करने से पहले, स्वयं से तीन प्रश्न कीजिये – मैं ये क्यों कर रहा हूँ, इसके परिणाम क्या हो सकते हैं और क्या मैं सफल होऊंगा. और जब गहराई से सोचने पर इन प्रश्नों के संतोषजनक उत्तर मिल जायें, तभी आगे बढिए.

  •  
    28
    Shares
  • 28
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Punit

Punit

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *